Latest news : आर्थिक : शेयर बाजार हुआ धड़ाम, सेंसेक्स 500 अंक और निफ्टी 168 अंक नीचे| कानून : केजरीवाल को 2 जून को करना होगा सरेंडर, SC ने नहीं स्वीकारी अंतरिम जमानत बढ़ाने की याचिका| राजकोट TRP गेम जोन केस: 5वें आरोपी किरीट सिंह जडेजा को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार| जम्मू-कश्मीर : पुंछ में LoC के पास संदिग्ध पाक ड्रोन पर BSF ने की फायरिंग| छिंदवाड़ा: एक ही परिवार के 8 लोगों की कुल्हाड़ी मार कर हत्या, हत्यारे ने की खुदखुशी|

साहित्य

पाँच जून से भूटान में लगेगा भारतीय साहित्यकारों का जमावड़ा

पाँच जून से भूटान में लगेगा भारतीय साहित्यकारों का जमावड़ा

पूर्वोत्तर हिंदी अकादमी का लेखक मिलन शिविर आयोजन पूर्वोदय संवाददाता: “साहित्य किसी भी समाज की आत्मा का प्रतिबिंब होता है। यह न केवल मनोरंजन का साधन है, बल्कि यह सामाजिक, सांस्कृतिक और ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्यों को भी व्यक्त करता है। भारत और भूटान के साहित्यिक संबंध दोनों देशों के लोगों को एक-दूसरे की संस्कृति, परंपराओं और जीवनशैली को समझने का अवसर प्रदान करते हैं। इस तरह की साहित्यिक यात्राएँ इन संबंधों को और भी मजबूत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं।“ इसी विश्वास के साथ पूर्वोत्तर हिन्दी अकादमी की ओर से भूटान में लेखक मिलन शिविर का आयोजन किया जा रहा…
Read More
लोकार्पण : नायक है पुस्तक और गूगल सहायक: डॉ. देवेन्द्र दीपक

लोकार्पण : नायक है पुस्तक और गूगल सहायक: डॉ. देवेन्द्र दीपक

नोएडा : मनुष्य के सामाजिक जीवन में पुस्तक का महत्व रेखांकित करते हुए प्रख्यात साहित्याकार डॉ. देवेन्द्र दीपक ने कहा कि नायक है पुस्तक और गूगल सहायक. गूगल जो भी साहित्यक सामग्री आपके समक्ष प्रस्तुत करता है वह किसी न किसी साहित्यकार की साधना का फल होता है. वह आज प्रेरणा शोध संस्थान में प्रो. अरुण कुमार भगत द्वारा सम्पादित पुस्तक “काव्य पुरुष: डॉ. देवेन्द्र दीपक – दृष्टि  और मूल्यांकन” के विमोचन समारोह में अपने भाव व्यक्त कर रहे थे. साहित्याकार डॉ. देवेन्द्र दीपक  ने कहा कि रेलवे स्टेशन से पुस्तक स्टाल के गायब होना एक चिंता का विषय है.…
Read More
नयी किताब : मोदी दशक… विकसित भारत की आधारशिला

नयी किताब : मोदी दशक… विकसित भारत की आधारशिला

लखनऊ | लोकप्रिय लेखक, स्तंभकार एवं लोकनीति विशेषज्ञ शिवेश प्रताप द्वारा लिखी गई यह पुस्तक राजनैतिक मुद्दों से हटकर मोदी सरकार के द्वारा किए गए 10 वर्षों के कार्यकाल में हुए नीतिगत सुधारों एवं समाज में आए व्यापक परिवर्तनों की चर्चा करती है। पुस्तक की भूमिका देश के जाने-माने पत्रकार , चिंतक एवं विचारक, भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री बलबीर पुंज जी ने लिखी है एवं इस पुस्तक को देश के प्रतिष्ठित प्रभात प्रकाशन के द्वारा बाजार में लाया गया है। मूल रूप से उत्तरप्रदेश के संतकबीरनगर निवासी और वर्तमान में ग्रेटर नोएडा में निवास करने वाले शिवेश प्रताप…
Read More
साहित्यकार कर रहे नई चेतना का संचार : डॉ शिव शक्ति बख्शी

साहित्यकार कर रहे नई चेतना का संचार : डॉ शिव शक्ति बख्शी

देश का साहित्य मार्गदर्शी  -हृदय नारायण दीक्षित भाजपा के प्रकाशन विभाग की विचार गोष्ठी लखनऊ| भारत आज अमृत काल के पथ पर अग्रसर है| 2014 से देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के यशस्वी नेतृत्व से आशा का संचार हुआ है| पीएम मोदी के पांच सूत्र – पंच प्रण को अपनाकर विकसित भारत के सपने को पूरा किया जा सकता है| इसके साहित्यकार अपनी कलम से महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं| यह विचार भाजपा पत्र- पत्रिका प्रकाशन विभाग के राष्ट्रीय संयोजक डॉक्टर शिव शक्ति बख्शी ने प्रकट किए| भारतीय जनता पार्टी मुख्यालय लखनऊ में पत्र पत्रिका   प्रकाशन विभाग उत्तर प्रदेश की…
Read More
नेपाल भारत साहित्य महोत्सव का पांचवां संस्करण संपन्न

नेपाल भारत साहित्य महोत्सव का पांचवां संस्करण संपन्न

पोखरा| भारतीय दूतावास काठमांडू, गंडकी प्रज्ञा प्रतिष्ठान, पोखरा प्रज्ञा प्रतिष्ठान, लेखनाथ साहित्य प्रतिष्ठान के संयुक्त तत्वावधान मे (मेरठ) भारत की क्रांतिधरा साहित्य अकादमी  द्वारा पोखरा, नेपाल के पृथ्वी नारायण कैंपस के भानुसभा हाल में आयोजित तीन दिवसीय नेपाल भारत साहित्य महोत्सव  के पंचम संस्करण का भव्य उद्घाटन वरिष्ठ साहित्यकार व पूर्व कुलपति श्री सरूभक्त श्रेष्ठ, भारतीय दूतावास के प्रतिनिधि श्री सत्येन्द्र दहिया, गंडकी प्रज्ञा प्रतिष्ठान के कुलपति श्री सूर्य खड़का बिखर्ची, पोखरा प्रज्ञा प्रतिष्ठान के कुलपति श्री पद्मराज ढ़काल, बर्दघाट प्रज्ञा प्रतिष्ठान के कुलपति डा घनश्याम न्यौपाने परिश्रमी, चौधरी चरणसिंह विश्वविद्यालय मेरठ, भारत के इतिहास विभागाध्यक्ष और इतिहासकार प्रो. विघ्नेश…
Read More
विधान सभा अध्यक्ष ने किया भुला न देना, प्रोफेसर माँ के लाल व महाशून्य का विमोचन

विधान सभा अध्यक्ष ने किया भुला न देना, प्रोफेसर माँ के लाल व महाशून्य का विमोचन

- डॉ मनीष शुक्ल, वरिष्ठ पत्रकार श्रीधर अग्निहोत्री और डॉ रश्मि कौशल की पुस्तक का विमोचन   - शिल्पायन बुक्स दिल्ली के उमेश शर्मा ने लिया प्रकाशित   - लखनऊ पुस्तक मेले के आयोजक मनोज चंदेल ने कानपुर समेत अन्य शहरों में मेला आयोजित करने का आह्वान किया   लखनऊ| उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने डिजिटल युग में साहित्य लेखन का भविष्य उज्ज्वल बताया| लखनऊ पुस्तक मेले में जाने माने लेखकों की किताबों का विमोचन करते हुए उन्होने युवाओं के  तकनीक और साहित्य के संगम को जरूरी बताया| विधान सभा अध्यक्ष ने कहा कि हिन्दी साहित्य आजार अमर…
Read More
अलका प्रमोद की तीन कृतियों का लोकार्पण समारोह

अलका प्रमोद की तीन कृतियों का लोकार्पण समारोह

लखनऊ | साहित्य आराधन के तत्वावधान में अलका प्रमोद की बाल साहित्य की तीन कृतियों -बाल कहानी संग्रह, ’चाँद पर क्रिकेट’ तथा ‘महँगी पड़ी शरारत’ एवं बाल कविता संग्रह ‘चहकता बचपन’ का लोकार्पण संपन्न हुआ। यह कार्यक्रम वरिष्ठ साहित्यकार श्री कृष्णेश्वर डींगर की जयंती पर उनकी स्मृति को समर्पित था।कार्यक्रम का संयोजन संस्था की अध्यक्ष डा अमिता दुबे द्वारा किया गया, मुख्य अतिथि प्रसिद्ध इतिहासविद श्री रवि भट्ट ,विशिष्ट अतिथि- डा रश्मि श्रीवास्तव वरिष्ठ साहित्यकार, सुश्री स्नेहलता, वरिष्ठ साहित्यकार, सुश्री नीलम राकेश , वरिष्ठ साहित्यकार थीं । आभार ज्ञापन प्रमोद कुमार पांडेय द्वारा किया गया।इस अवसर पर अमिता सिन्हा, अनुपम…
Read More
अंतर्राष्‍ट्रीय मातृभाषा दिवस पर यूको बैंक की राजभाषा संगोष्ठी

अंतर्राष्‍ट्रीय मातृभाषा दिवस पर यूको बैंक की राजभाषा संगोष्ठी

लखनऊ | यूको बैंक, अंचल कार्यालय लखनऊ द्वारा 'नगर  राजभाषा  कार्यान्‍वयन समिति’ (बैंक)  लखनऊ के तत्‍वावधान में 'अंतर्राष्‍ट्रीय मातृभाषा दिवस'  के अवसर पर आयोजित  'राजभाषा संगोष्‍ठी' का आयोजन आज दिनांक 28.02.2024 को उत्‍तर प्रदेश हिंदी संस्‍थान के 'निराला सभागार' में किया गया। संगोष्‍ठी का विषय - ‘राजभाषा हिंदी के बढ़ते चरण और संभावनाएं’ था। संगोष्‍ठी की अध्‍यक्षता वरिष्‍ठ साहित्‍यकार एवं प्रधान संपादक उत्‍तर प्रदेश हिंदी संस्‍थान डॉ अमिता दुबे द्वारा की गईा संगोष्‍ठी में विशिष्‍ट अतिथि डॉ योगेन्‍द्र प्रताप सिंह, प्रोफेसर हिंदी एवं आधुनिक भारतीय भाषा विभाग थेा संगोष्‍ठी का शुभारंभ दीप प्रज्‍जवलन एवं माता सरस्‍वती के चित्र पर मार्ल्‍यापण…
Read More
नेपाल भारत के बीच साहित्यिक सेतु बना रहा साहित्य महोत्सव

नेपाल भारत के बीच साहित्यिक सेतु बना रहा साहित्य महोत्सव

चार सौ से अधिक नेपाल भारत के साहित्य साधक और एक सौ से अधिक नेपाली छात्रों की सहभागिता रही पोखरा, नेपाल के पृथ्वी नारायण कैंपस, गंडकी प्रज्ञा प्रतिष्ठान के भानुसभा हाल में आयोजित तीन दिवसीय नेपाल भारत साहित्य महोत्सव के पंचम संस्करण का भव्य उद्घाटन वरिष्ठ साहित्यकार सरूभक्त श्रेष्ठ,  भारतीय दूतावास के प्रतिनिधि सत्येन्द्र दहिया, गंडकी प्रज्ञा प्रतिष्ठान के कुलपति, पोखरा प्रज्ञा प्रतिष्ठान के कुलपति पद्मराज ढ़काल, बर्दघाट प्रज्ञा प्रतिष्ठान के कुलपति डा घनश्याम न्यौपाने परिश्रमी, चौधरी चरणसिंह विश्वविद्यालय मेरठ, भारत के इतिहास विभागाध्यक्ष प्रो. वघ्नेश कुमार, वरिष्ठ साहित्यकार व समाजसेवी गणेश प्रसाद लाठ मुख्य वक्ता रहे सभी ने दीप…
Read More
अंतर्राष्ट्रीय नेपाल भारत साहित्य रत्न अवार्ड से नवाजे गए डा.अरविंद कुमार ग्रीनमैन

अंतर्राष्ट्रीय नेपाल भारत साहित्य रत्न अवार्ड से नवाजे गए डा.अरविंद कुमार ग्रीनमैन

गाजीपुर:पोखरा नेपाल में आयोजित नेपाल भारत साहित्य महोत्सव का पंचम संस्करण 22,23,24 फरवरी को आयोजित था। जिसमें जनपद के जखनिया मुड़ियारी ग्रामसभा निवासी अरविंद कुमार आजाद 'ग्रीनमैन' को 'अंतर्राष्ट्रीय नेपाल भारत साहित्य रत्न अवार्ड' से नवाजा गया। इससे पहले भी डा.अरविंद कुमार को विभिन्न साहित्यिक व सामाजिक संस्थाओं द्वारा कई उत्कृष्ट पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। बता दें कि विगत वर्ष चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ में आयोजित विक्रमशिला हिंदी विद्यापीठ भागलपुर द्वारा इन्हें विद्या वाचस्पति डॉक्टरेट की मानद् उपाधि से सम्मानित किया गया। तथा मेरठ विश्वविद्यालय में हिंदी विभाग में क्रांतिधरा साहित्य अकादमी ने इन्हें 'पर्यावरण प्रहरी'…
Read More