Latest news : आर्थिक : शेयर बाजार हुआ धड़ाम, सेंसेक्स 500 अंक और निफ्टी 168 अंक नीचे| कानून : केजरीवाल को 2 जून को करना होगा सरेंडर, SC ने नहीं स्वीकारी अंतरिम जमानत बढ़ाने की याचिका| राजकोट TRP गेम जोन केस: 5वें आरोपी किरीट सिंह जडेजा को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार| जम्मू-कश्मीर : पुंछ में LoC के पास संदिग्ध पाक ड्रोन पर BSF ने की फायरिंग| छिंदवाड़ा: एक ही परिवार के 8 लोगों की कुल्हाड़ी मार कर हत्या, हत्यारे ने की खुदखुशी|

स्वास्थ्य

पारंपरिक चिकित्सा के पहले महाकुंभ में जुटे 75 से अधिक देश

पारंपरिक चिकित्सा के पहले महाकुंभ में जुटे 75 से अधिक देश

दुनिया भर की पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों के धुरंधरों को एक मंच पर लाकर अनेक महत्वपूर्ण पहलुओं पर संवाद करने के लिए आयोजित पहली विश्व स्वास्थ्य संगठन की पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों पर पहली ग्लोबल समिट का उद्धाटन डब्ल्यूएचओ के महासचिव डॉ. ट्रेडोस एडनोम गेब्रेयेसस ने ब्रहस्पतिवार को गांधीनगर में किया। अपने संबोधन में उन्होंने पारंपरिक चिकित्सा के क्षेत्र में भारत की ऐतिहासिक पहल की जमकर तारीफ की और कहा कि हम पारंपरिक, पूरक और एकीकृत चिकित्सा के जरिए दुनिया को स्वस्थ बना सकते हैं।उल्लेखनीय है कि इस शिखर सम्मेलन में 75 से भी अधिक देशों के प्रतिनिधि और अनेक देशों के…
Read More
नशे की लत खत्म करने की चुनौती

नशे की लत खत्म करने की चुनौती

अरविंद जयतिलक एक कल्याणकारी राज्य की जिम्मेदारी होती है कि वह अपने नागरिकों को शारीरिक व मानसिक रुप से स्वस्थ रखे। कहा भी जाता है कि एक स्वस्थ व समृद्ध राष्ट्र के निर्माण के लिए उसके नागरिकों का शारीरिक और मानसिक रुप से स्वस्थ होना आवश्यक है। पर यह तभी संभव है जब राज्य अपने नागरिकों को उचित स्वास्थ्य उपलब्ध कराने के लिए नशाखोरी पर लगाम कसेगा। यह किसी से छिपा नहीं है कि बिगड़ते स्वास्थ्य के लिए सर्वाधिक रुप से शराब और तंबाकू उत्पाद जिम्मेदार है जिसके सेवन से देश में हर वर्ष लाखों लोगों की मौत हो रही…
Read More
भारत ने डिजिटल प्लेटफॉर्म से दी 220 करोड़ वैक्सीन की खुराक

भारत ने डिजिटल प्लेटफॉर्म से दी 220 करोड़ वैक्सीन की खुराक

डॉ. जितेंद्र सिंह ने बिलावर में नि:शुल्क टेलीमेडिसिन स्टार्टअप मोबाइल कैंप "डॉक्टर ऑन व्हील्स" का उद्घाटन किया, जम्मू-कश्मीर में यह पहला कैंप है केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) विज्ञान और प्रौद्योगिकी, प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री, कार्मिक, लोक शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष, राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने आज कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में, भारत ने पूरी तरह से डिजिटल प्लेटफॉर्म (कोविन) के माध्यम से 220 करोड़ कोविड वैक्सीन की खुराक देकर दुनिया को हैरान कर दिया था, जिसकी कल्पना भी विकसित पश्चिमी देशों द्वारा नहीं की गई थी। डॉ. जितेंद्र सिंह बिलावर…
Read More
आपकी सांसों से पता चल जाएगी पेप्टिक अल्सर बीमारी

आपकी सांसों से पता चल जाएगी पेप्टिक अल्सर बीमारी

श्वांस के स्वरूप को पहचानने की एक नवीन विकसित गैर-इनवेसिव विधि अपच, गैस्ट्राइटिस और गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स रोग (जीईआरडी) जैसे विभिन्न गैस्ट्रिक विकारों के तेजी से, एक-चरणीय निदान और वर्गीकरण में सहायता कर सकती है। वर्तमान में, पेप्टिक अल्सर रोग एक महत्वपूर्ण चिकित्सा-सामाजिक समस्या है जिस पर पूरी दुनिया में विशेष ध्यान दिया गया है। इस बीमारी के विकास के लिए हेलिकोबैक्टर पाइलोरी जीवाणु संक्रमण को सबसे महत्वपूर्ण खतरे का कारक माना जाता है। ग्रहणी और गैस्ट्रिक अल्सर दोनों को घेरने वाले पेप्टिक अल्सर वाले रोगी स्पर्शोन्मुख या रोगसूचक रह सकते हैं और प्रारंभिक अवस्था में विशिष्ट लक्षणों की कमी के…
Read More
लन्दन- अमेरिका तक ‘एशा’ के आयुर्वेद की धूम

लन्दन- अमेरिका तक ‘एशा’ के आयुर्वेद की धूम

एशा वेलनेस के स्थापना दिवस पर डॉ मधुर रे ने हजारों वर्ष पुराणी आरोग्य पद्धति से रू- ब- रू कराया   चार हजार वर्षों से भी अधिक प्राचीन और समृद्ध आरोग्य संपदा को संजोना और वैज्ञानिक मानकों पर खरा उतार कर जन सामान्य के स्वास्थ्य के लिए उपलब्ध कराना भले ही चुनौती भरा कार्य हो लेकिन एशा वेलनेस की संस्थापक डॉ मधुर रे के दृणसंकल्प ने यह संभव कर दिया है| डॉ मधुर सेंट्रल ड्रग रिसर्च इंस्टीटयूट (सीडीआरआई) की सेवानिवृत उप निदेशक हैं| फार्मेसी के क्षेत्र में 36 से ज्यादा पेटेंट कराने के बाद उन्होंने आयुर्वेद औषधियों को वैज्ञानिक मान्यता…
Read More
कोरोना वायरस जैसी महामारी की दस्तक फिर से

कोरोना वायरस जैसी महामारी की दस्तक फिर से

लेखक : डॉ आलोक चांटिया आज भारत ही नहीं संपूर्ण विश्व के 186 देश करोना जैसे वायरस से पीड़ित होकर अपने देश में रहने वाले लोगों को जिंदा रखने के लिए हर प्रयास कर रहे हैं यह स्थिति नाजुक इसलिए बन गई है क्योंकि अभी तक इस वायरस के विरुद्ध कोई भी एंटी टोड नहीं बन सका है या वैक्सीन नहीं बनाई जा सकी है वैसे तो विश्व स्तर पर भारत सहित बहुत से देशों ने वैक्सीन बनाई है और वैक्सीन को लेकर अभी भी संशय की स्थिति बनी हुई है उस पर विमर्श हो रहा है उसके प्रभाव पर…
Read More
हर घर मानसिक ध्यान अभियान

हर घर मानसिक ध्यान अभियान

“आजादी का अमृत महोत्सव” के तत्त्वावधान में उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय ने अपने अधिकारियों/स्टाफ के लिये नई दिल्ली स्थित विज्ञान भवन सौध में “हर घर ध्यान” अभियान के अंतर्गत ध्यान और मानसिक स्वास्थ्य पर एक घंटे का परिचय सत्र आयोजित किया। सत्र का नेतृत्व आर्ट ऑफ लिविंग की सुश्री अरुणिमा सिन्हा और श्री सुयश राज शिवम् ने की। सत्र के दौरान प्रतिभागियों को मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य के प्रति जागरूक किया गया, उन्हें ध्यान की सरल व आसानी से अपनाई जाने वाली पद्धित से परिचित कराया गया तथा आत्मसुधार की निरंतर चलने वाली यात्रा के लिये अनेक जानकारियां प्रदान…
Read More
किडनी की कहानी : होती है ट्रांसप्लांट की भी अपनी आयु

किडनी की कहानी : होती है ट्रांसप्लांट की भी अपनी आयु

लालू यादव के बेटी ने प्रस्तुत किया उदहारण अमर सिंह उधार की किडनी से 11 वर्ष जी गए, मगर सुषमा स्वराज और अरुण जेटली इतने भाग्यशाली नहीं रहे लेखक - लव कुमार सिंह 1950 में 17 जून को दुनिया का पहला किडनी प्रत्यारोपण किया गया था। इस दिन शिकागो में 44 साल की महिला रुथ टकर के शरीर में किडनी ट्रांसप्लांट की गई थी। एक घंटे के ऑपरेशन को डॉ. रिचर्ड लालर ने अंजाम दिया था। उस पहले ऑपरेशन से प्रत्यारोपित हुई किडनी ने महज 53 दिन तक ही काम किया था। उस पहले किडनी प्रत्यारोपण को 70 साल से…
Read More
करोना काल के बाद क्या काल बन गया है कार्डिएक अरेस्ट !!

करोना काल के बाद क्या काल बन गया है कार्डिएक अरेस्ट !!

करोना ने केवल फेफड़े ही नहीं दिल पर भी अटैक किया है! कोविद 19 का खौफनाक दौर बीतने के बाद अब हार्ट अटैक के सामने आ रहे हैं! जिन लोगों को कोरोना हो चुका है उन लोगों को डॉक्टर विशेष सावधानी बरतने की सलाह देते हैं। लेकिन कोरोना को हार्ट अटैक का साइड इफेक्ट की अब तक कोई पुष्टि नहीं हुई है। हालाँकि लंदन में हुए एक शोध के अनुसार कोविड के शिकार लोगों में स्ट्रोक आने कि संभावना 17 गुना होती है! अभी हाल ही में एक के बाद जानी मानी हस्तियों के हार्ट अटैक से निधन के बाद…
Read More
छात्र- छात्राओं के लिए हैदराबाद में हार्टफुलनेस इंटरनेशनल योग अकादमी

छात्र- छात्राओं के लिए हैदराबाद में हार्टफुलनेस इंटरनेशनल योग अकादमी

केंद्रीय आयुष मंत्री श्री सर्बानंद सोनोवाल ने हैदराबाद में हार्टफुलनेस इंटरनेशनल योग अकादमी की आधारशिला रखी। योग अकादमी में ऐसे योग कक्ष हैं जिसमें से प्रत्येक कक्ष में योग की शिक्षा प्राप्त कर रहे 100 छात्र आ सकते हैं। चिकित्सीय परामर्श के लिए योग कक्ष, प्रत्येक छात्र को अलग से प्रशिक्षण के लिये स्थान या छोटे समूह की कक्षायें; प्रसव पूर्व योग के लिये कक्ष; 200 लोगों की बैठक क्षमता वाला एक व्याख्यान कक्ष; पहले से रिकॉर्ड किये गये स्वास्थ्य से जुड़े कार्यक्रमों के लिये ए़डिटिंग की सुविधा के साथ एक अपने में सम्पूर्ण रिकॉर्डिंग स्टूडियो; योग कक्षाओं के ऑनलाइन…
Read More